फेसबुक पिक्सेल कोड क्या हे और यह ऑनलाइन ब्यबसाय के लिए क्यों इतना जरूरी ?

फेसबुक पिक्सेल क्या हे ?(What is Facebook Pixel?)

यदि आप फेसबुक विज्ञापनों(Facebook Advertisements) का उपयोग कर रहे हैं, तो एक महत्वपूर्ण उपकरण है जिसे आपको अपने निर्धारित बजट में अधिक सफलता प्राप्त करने के लिए तुरंत उपयोग करना शुरू करना चाहिए।फेसबुक पिक्सेल कोड है जिसे आप अपनी वेबसाइट पर रखते हैं। यह डेटा एकत्र करता है जो आपको फेसबुक विज्ञापनों से रूपांतरण को ट्रैक करने में मदद करता है, विज्ञापनों का अनुकूलन करता है, भविष्य के विज्ञापनों के लिए लक्षित ऑडियंस का निर्माण करता है, और उन लोगों को रीमार्केटिंग करता है जिन्होंने पहले से ही आपकी वेबसाइट पर किसी प्रकार की कार्रवाई की है।

यह उपयोगकर्ताओं को ट्रैक करने के लिए कुकीज़ को रखने और ट्रिगर करने से काम करता है क्योंकि वे आपकी वेबसाइट और आपके फेसबुक विज्ञापनों के साथ संग्लग्न रहते हैं। एफिलिएट मार्केटर्स एबं ईकॉमर्स सेलर के बिच यह टूल बहुत ही प्रसिद्द हे। 



Facebook Pixel सेट करने की आवश्यकता क्यों है?(Why Facebook Pixel is important?)

फेसबुक पिक्सेल महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करता है जिसका उपयोग आप बेहतर फेसबुक विज्ञापन बनाने के लिए कर सकते हैं, और अपने विज्ञापनों को बेहतर लक्षित कर सकते हैं। फ़ेसबुक ट्रैकिंग पिक्सेल डेटा से यह सुनिश्चित करने में मदद मिलती है कि आपके विज्ञापन उन लोगों द्वारा देखा जाये , जिन्हें आपकी बिज्ञापन में बाकई रूचि हो एबं वांछित कार्रवाई करने की सबसे अधिक संभावना है। इससे आप अपने फेसबुक विज्ञापन रूपांतरण दर में सुधार कर सकते हैं और बेहतर रिजल्ट प्राप्त कर सकते हैं।

रेटार्गेटिंग(Retargeting Visitors)

क्या आपने कभी सोचा है कि उस उत्पाद को ऑनलाइन देखने के तुरंत बाद आप अपने पसंदीदा उत्पाद के लिए फेसबुक विज्ञापन क्यों देखते हैं? यही तो है रेटार्गेटिंग। कोई भी व्यवसाय फेसबुक पर इस लक्ष्यीकरण विकल्प का उपयोग उन लोगों को लक्षित करने के लिए कर सकता है जिन्होंने पहले से ही आपकी वेबसाइट पर जाना चुना है। अपनी वेबसाइट पर फेसबुक पिक्सेल कोड स्थापित करके, आप फेसबुक विज्ञापनों के साथ लोगों को तुरंत रिटारगेट करना शुरू कर पाएंगे।

ट्रैक कन्वर्शन (For tracking conversions)

कोई भी बिज्ञापन का सफल होना इसके कन्वर्शन रेट के ऊपर निर्भर करता हे। एक सफल ब्यबसायी बनने के लिए आपको अपने बिग्यापनो का आंकलन करना आवश्यक हे। 

फेसबुक पिक्सेल के साथ आप यही चीज बखूबी तरीके से कर सकते हे। इवेंट ट्रैकिंग आपको अपने फेसबुक विज्ञापन अभियानों के परिणामस्वरूप अपनी वेबसाइट पर रूपांतरण ट्रैक करने में सक्षम करेगी। एक स्टैण्डर्ड फेसबुक इवेंट या एड जो आप बनाते हे उसके बहुत सारे मकसद हो सकते हे। पिक्सेल सेल्स ,शॉपिंग कार्ट ,वेबसाइट विजिट ,लैंडिंग पेज व्यू ,इत्यादि विज़िटर्स द्वारा किया जाने वाला एक्शन्स को ट्रैक कर पाता हे।  ईवेंट ट्रैकिंग का उपयोग करके, आप सीधे अपनी वेबसाइट पर रूपांतरणों को एक विशिष्ट विज्ञापन अभियान में बाँध सकते हैं। 

कस्टम ऑडियंस (Custom Audience)

ट्रैकिंग के साथ-साथ फ़ेसबुक पिक्सेल स्थापित करने से नए प्रकार के कस्टम ऑडियंस बनाने के अवसर खुलेंगे, जिनका उपयोग आपके विज्ञापन अभियानों में किया जा सकता है। अपनी वेबसाइट के सभी आगंतुकों को लक्षित करने के अलावा, आप उन लोगों को लक्षित करने के लिए एक कस्टम ऑडियंस भी बना सकते हैं, जो आपकी साइट पर कुछ पृष्ठों पर जाते हैं, जो लोग आपकी साइट पर एक निश्चित समय बिताते हैं, या वे लोग जिन्होंने आपसे आइटम खरीदा है।

हर फेसबुक एड के अलग अलग मकसद होते हे या फिर कोई एक ब्यक्ति अलग अलग प्रोडक्ट्स का बिज्ञापन देता हे। जैसे ही आपके सर्विसेज या प्रोडक्ट्स चेंज होते रहेंगे आपके कस्टमर्स ग्रुप भी बदलते रहेंगे। जाहिर सी बात हे की कोई एक उत्पाद सभी के लिए नहीं हो सकता। फेसबुक पिक्सेल के साथ आपका यह काम बहुत ही आसान हो जाता हे। आप अपने अलग अलग एडस के लिए अलग अलग ऑडियंस ग्रुप बना सकते हे। 

लूकएलाइक ऑडियंस(Lookalike Audience)

ये वो ऑडियंस हैं जो फेसबुक उन लोगों को उत्पन्न करता है जो आपके द्वारा पहले से बनाए गए कस्टम ऑडियंस के समान हैं। वे कई प्रकार के कारकों पर आधारित होते हैं जो उम्र और रुचियों से बहुत आगे होते हैं। इसलिए, आप अपने दर्शकों से मिलते-जुलते दर्शक बना सकते हैं, जो आपके विज्ञापन को क्लिक करने वाले लोगों के समान है, या उससे पहले के लोगों से भी मिलते-जुलते हैं।

लुकलाइक ऑडियंस को डिजिटल मार्केटिंग में बहुत ही महत्तपूर्ण माना जाता हे जो एक बिज्ञापन को सफल बनाने में काफी हद तक मद्दद करता हे। 

अपना पिक्सेल कोड कैसे बनाये ?(How to create facebook pixel code?)

Facebook Business Manager खाते में लॉग इन करके Facebook Pixel से शुरुआत करें, फिर सबसे ऊपर Pixels टैब पर नेविगेट करें। आप आसानी से एक क्लिक के साथ अपना खुद का पिक्सेल बना सकते हैं। फिर, आप अपनी वेबसाइट पर पिक्सेल आधार कोड और ईवेंट कोड कैसे स्थापित करें, इस पर निर्देश देख सकते हैं।

फेसबुक साथ सबसे अच्छी बात यह हे की आपको हर कदम पर सहायता मिलेगी। FACEBOOK Help के सहायता से आप आसानी से खुद के वेबसाइट में अपना पिक्सेल कोड स्थापित कर सकते हे। 

आज का समय डिजिटल युग कहलाता हे और इसमें सोशल मीडिया का बहुत ज्यादा प्रभाव हे। इसीलिए आजकल कोई भी ब्यबसाय सफल बनाने के लिए सोशल मीडिया का प्रयोग करना मार्केटिंग स्ट्रेटेजी का हिस्सा माना जाता हे। 

फेसबुक मार्केटिंग के बारे में सबसे अच्छी बात भू-लक्ष्यीकरण(Geo-targeting) है। इसकी मदद से छोटे व्यवसाय जहाँ चाहे अपना व्यवसाय कर सकते हैं। फेसबुक की मदद से स्थानीय और आस-पास के इलाकों को आसानी से निशाना बनाया जा सकता है।


एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने