एक कदम आत्मनिर्भरता की और

 Covid -19 ने पुरे विश्व का अर्थव्यवस्ता का बेहाल कर दिया है। बहुत सारे कम्पनिया बंद हो गयी तथा करोड़ो लोग बेरोजगार हो चुके है। ऐसी परिस्तिथि में हम सभी नागरिको का यह कर्त्तव्य है की अपने देश की इकोनॉमी को बढ़ाने में सहायक बने। 

हम सभी को यह मालूम है की लघु उद्योग ही कोई भी देश का अर्थव्यवस्ता का एक मुख्य हिस्सा होता है ,तथा यही एक सही रास्ता है जिससे की हम अपना देश और इकोनॉमी की बढ़ा सकते हे। 

सरकार ने देश के युवा उद्यमी लोगों को मद्दद करने के लिए बहुत सारे योजनाएं उपलब्ध है  लेकिन सही जानकारी और पूंजी के अभाव के कारण बहुत सारे उद्यमी लोग अपना स्टार्टअप नहीं कर पाते। 

इस लेख मे आज हम यही कुछ सरकारी योजनाए के बारे में बतायेंगे जो की आपको स्टार्टअप के लिए और अपनी बिज़नेस के दौरान लाभप्रद होंगी। 



MUDRA YOJANA

Pradhan Matri Mudra Yojana: यह योजना सूक्ष्म उद्यमों, गैर कॉर्पोरेट, गैर-कृषि और गैर-मान्यता प्राप्त लघु उद्योगों के सुधार के लिए विशेष रूप से तैनात की गई है।यह इन सूक्ष्म उद्यमियों को व्यावसायिक प्रोफ़ाइल बनाने में मदद करता है।

Individual, Small Business Owners, retailers ,traders, MSME इत्यादि यह स्कीम का फायदा उठा सकते है। 

इस योजना में वे 10 लाख तक का ऋण ले सकते हैं।विनिर्माण(MANUFACTURING) और सेवा(SERVICE) क्षेत्र दोनों एंटरप्रीजेस इस ऋण का लाभ उठा सकते हैं।Collateral Securities(कोलैटरल सिक्यॉरिटी) बैंक बिना कोलैटरल सिक्योरिटी के बिना ही लोन प्रदान करता है। 

यह लोन स्कीम के तीन प्रकार हैं शिशु(SHISHU) ,किशोर(KISHORE) और तरुण(TARUN)। और आपका ऋण इसके अनुसार भिन्न होता है। https://www.udyamimitra.in/  पे ऑनलाइन आवेदन करें।


                                                 

MUDRA LOAN

शिशु(SHISHU)

  •  50 हजार तक ऋण प्राप्त कर सकते हैं 
  • जीरो प्रोसेसिंग फीस 

किशोर(KISHORE)

  • 50 हजार से 5 लाख तक ऋण प्राप्त कर सकते हैं
  • जीरो प्रोसेसिंग फीस

तरुण(TARUN)

  • 5 लाख से 10 लाख तक ऋण प्राप्त कर सकते हैं
  • 0.5% प्रोसेसिंग फीस


          









MUDRA LOAN को प्राप्त करने के लिए योग्यता

  • 18 से 65 साल के भारतीय नागरिक होना अनिवार्य हे। 
  • एक अच्छा फाइनेंसियल हिस्ट्री और पुराना कोई भी लेन देन डिफ़ॉल्ट नहीं होगा तो लोन जल्दी मिलता है। 


PRIME MINISTER'S EMPLOYMENT GENERATION PROGRAMME(PMEGP)


इस योजना को विशेष रूप से ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में रोजगार के अवसर पैदा करने के लिए तैनात किया गया है।यह स्किम सरकार द्वारा युवावो को प्रोत्साहन तथा मदद के लिए बनाई गयी है। इसका दूसरा मकसद रूरल एरियाज  को आगे बढ़ाना और लोगों को अपने ही  locality में रोजगार का अवसर दिलाना हे। यह स्किम के तहत आपको working capital पे 35 % तक सब्सिडी मिलता है।  इस योजना के बारे में सबसे अच्छी बात यह है कि बैंक किसी भी संपार्श्विक सुरक्षा(Collateral Security) के लिए नहीं पूछेगा। 

इसका अप्लीकेशन आप ऑनलाइन भर सकते है। और filled application आप DIC ऑफिस में डायरेक्टली सबमिट करे। इस आवेदन प्रक्रिया में एक अंकन प्रणाली है जो यह तय करेगी कि क्या आप इस योजना के लिए उचित पात्र हैं।

Qualifications required
इस योजना का लाभ पाने के लिए आपको नीचे दिए गए मानदंडों को पूरा करना होगा।
  • आवेदक की आयु 18 वर्ष और उससे अधिक होनी चाहिए
  • उसकी न्यूनतम योग्यता 8 वीं पास होनी चाहिए
  • PMEGP के अंतर्गत केवल नई परियोजनाओं पर विचार किया जाता है। 
  • इस योजना का लाभ Society और ट्रस्ट भी उठा सकते हैं
  • Sector  के आधार पर enterprizes /ventures  10-35% की सब्सिडी के साथ 10-25 लाख का ऋण ले सकते हैं।
Documents Required

इस आवेदन को भरने के लिए नीचे दिए गए दस्तावेज आवश्यक हैं
  • ID proof of the applicant
  • PAN card
  • Project Report
  • Category certificate
  • Qualification certificate

https://www.kviconline.gov.in जहाँ आप आवेदन कर सकते हैं और प्रशिक्षण भी प्राप्त कर सकते हैं। इसके बाद आप भरे हुए आवेदन को DIC कार्यालय में जमा कर सकते हैं।

STAND UP & START UP INDIA


यह सरकार द्वारा विशेष रूप से महिला उद्यमियों और पिछड़े वर्गों के लिए नए स्टार्टअप की मदद करने के लिए एक पहल है।इसके लिए आप किसी भी राष्ट्रीयकृत बैंक से ऋण ले सकते हैं।

इस ऋण की विशेषताएं
  • आप परियोजना के अनुसार 10 लाख से 1 करोड़ तक की ऋण राशि प्राप्त कर सकते हैं।
  • यह ऋण विनिर्माण, सेवा और व्यापार क्षेत्र के लिए है।
  • इस ऋण का लाभ उठाने के लिए किसी भी प्रकार की संपार्श्विक प्रतिभूति प्रस्तुत करने की आवश्यकता नहीं है।
  • 0.20% processing fees आपको भुगतान करना है
  • और इस ऋण के लिए अधिकतम चुकौती अवधि 7 वर्ष तक है।

Category के अनुसार 10 से 25% कार्यशील पूंजी(Working Capital) आपके पास होनी चाहिए।आपको इस योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन करना होगा। https://www.udyamimitra.in/ इस लिंक से आप आवेदन कर सकते हैं। अन्य आवश्यक दस्तावेजों के साथ पंजीकरण के लिए प्रोजेक्ट रिपोर्ट और उद्यमी अनुभव विवरण आवश्यक है।

ट्रेडमार्क पंजीकरण और इसके महत्व के बारे में यहाँ और पढ़ें।

एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने